sansad

कुशीनगर:  पडरौना शुगर मिल  मुद्दा मंगलवार को संसद में उठाया गया। कुशीनगर से भाजपा सांसद राजेश पाण्डेय ने इसे सदन में उठाते हुए शुगर मिल को जनहित व किसान हित में चालू करने की मांग सदन के माध्यम से की।गौरतलब है की चुनाव के समय इस शुगर मिल की बंदी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा जताई गई चिंता का हवाला देते हुए मिल के चालू करने कर बताया। उनके द्वारा सदन में कहा गया कि इस मिल को चालू करने को लेकर मंत्रलय को अनेक बार पत्र लिख चुका हूं तो संबंधित मंत्री व विभागीय अधिकारियों के साथ जिलाध्यक्ष भाजपा लल्लन मिश्र के साथ बैठक कर चुका हूं। उन्होंने विभागीय मंत्री संतोष गंगवार को धन्यवाद भी दिया कि उनके कहने पर उन्होंने एक समिति मिल के मूल्यांकन के लिए भेजी। यह मिल पूरी तरह से कपड़ा मंत्रलय के अधीन है। इसकी जिम्मेदारी भी सरकार की है। जब भी क्षेत्र में जाता हूं जनता सवाल करती है और मैं जनता के इस सवाल पर असहज हो जाता हूं। सांसद ने सदन जोर देकर कहा कि समिति की रिपोर्ट आ गई है कि साधारण खर्च के बाद यह मिल चालू हो जाएगी। अब ऐसे में मजदूरों, किसानों के लिए रीढ़ की हड्डी इस शुगर मिल को लेकर अब हमारे मंत्रलय के पास दो ही विकल्प हैं 350 करोड़ की मिल की संपत्ति को नुकसान होने के लिए छोड़ देना या जनहित व किसान हित में शुगर मिल चालू की जाये ।