कुशीनगर : लक्ष्मीगंज, : रामकोला थाने के ग्राम पगार इन्द्रावती देवी ने अपने के साउथ अफ्रीका के कांगो शहर फंसे होने की आशंका जताते हुए जिलाधिकारीको पत्रक सोपकर मुक्त कराने की मांग की हैं। इन्द्रावती का कहना है कि उनका बेटा जुलाई 2015 को साउथ अफ्रीका के कांगो शहर में गया। वहां पहुंचकर वह काम करने लगा। इधर एक सप्ताह से राजू से बात नहीं हो पाने से मे चिंतित हूं। पूर्व मे राजू ने बताया था कि कंपनी मालिक पैसे नहीं दे रहा है, मांगने पर मारा-पीटा जा रहा है। उसको वापस घर भी नहीं भेजा जा रहा है। आशंका है कि राजू का जीवन खतरे में है।