कुशीनगर : जनपद संतकबीरनगर के निवासी नेवास अली अपने बेटे की मौत के मामले में कुशीनगर और संतकबीरनगर पुलिस के बीच गेंद बनकर रह गये है।

जो दोनों जनपदों के अधिकारियों से लगायत एडीजी तक प्रार्थना पत्र दे चुके है परन्तु कही से कोई पहल नही होता दिख रहा।जिससे परिवार अपने मृत बेटे के हत्यारों पर कोई कार्यवाही नही करा पा रहा।

नेवास अली ने एडीजी गोरखपुर को सौपे प्रार्थना पत्र में लिखा है कि 21.11.2019 को सायं 7.00 के लगभग मेरे ही गांव के मुलन पुत्र तफज्जुल मेरे पुत्र अफजल को अपने साथ ले गया, मेरा लड़का पूरी रात पर नहीं आया। 

सुबह 4.00 बजे हम लोग अपने लडके के मोबाइल नम्बर पर सम्पर्क किया तो फ़ोन कुशीनगर जनपद के एम्बुलेंस चालक ने उठाया तथा उन्हें लड़के के गंभीर हालत होने तथा तरयासुजान के तमकुहीराज आने को कहा।

जब वहां पहुँचे तो लड़का मृत अवस्था मे मिला और तभी से मुलन पुत्र तफज्जुल फ़रार है।जब वहां स्थानीय चौकी व थाने पर गये तो पुलिस गैर जनपद के मामला बताकर अपने थाने पर मामला दर्ज कराने को कहा।

जब अपने संतकबीरनगर ने स्थानीय थाने पर गये तो वहाँ की पुलिस घटनास्थल थाना भेज रही, और कार्यवाही कही नही हो रहा जबकि संतकबीरनगर एसपी और कुशीनगर के अधिकारियों से फरियाद कर चुके है।