देवरिया : जिला जेल में जेलकर्मियों और कैदियों के बीच झड़प हो गई. जिसके बाद कैदियों ने सुरक्षाकर्मियों पर पथराव कर दिया. पुलिस ने हालात को काबू करने के लिए हवाई फायरिंग भी की. इस दौरान कई पुलिस  जवान गंभीर रूप से घायल हो गया.

जिला जेल में हंगामा मंगलवार की सुबह हुआ. बताया जा रहा है कि सारा विवाद खाने को लेकर हुआ. उसके बाद कैदी जेल के सुरक्षाकर्मियों से भिड़ गए. उन्होंने जेल की बैरकों पर कब्जा कर लिया. जानकारी मिलते ही जिले के आला अधिकारी भी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए.

पुलिस ने जेल में हालात काबू में करने के लिए फायरिंग की. इससे पहले कैदियों ने पुलिस बल पर पथराव भी किया. जेल अधीक्षक आर.बी. पटेल ने कैदियों को समझाने और रोकने का प्रयास भी किया लेकिन वे नहीं माने. और कैदियों ने पटेल पर ही हमला कर दिया. उन्होंने किसी तरह से भागकर जान बचाई.

कैदियों ने हंगामें के बीच जेल के रसोईघर पर भी कब्जा कर लिया और वहां से एलपीजी सिलेंडर उठाकर बैरकों में ले गए. बाद में सुरक्षाकर्मियों ने सारा सामान अपने कब्जे में लिया. घायल सुरक्षाकर्मी को इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया है.

घटना के बाद जेल की सुरक्षा बढ़ा दी गई है. पूरे मामले की जांच के आदेश दिए गए हैं. देवरिया की जिलाधिकारी अनीता श्रीवास्तव ने बताया कि सारा विवाद खाने को लेकर हुआ था. बाद में कैदी हिंसक हो उठे और उन्होंने सुरक्षाकर्मियों पर पथराव किया. कैदियों ने आग लगाने की कोशिश भी की. लेकिन बाद में हालात को काबू कर लिया गया| इस दौरान जो अपनों से मुलाकात करने जेल तक पहुंचे थे। घटना से अनभिज्ञ कैदियों के परिजन यह जानने को बेताब रहे कि आखिरकार मूल माजरा क्या है? देवरिया व कुशीनगर जिले के सैकड़ों लोग देवरिया कारागार में कैद अपने शुभचिंतकों व प्रियजनों से मिलने हर रोज आते हैं। मुलाकातियों की भीड़ सुबह से जमा होना शुरू हो जाती है। इनमें अधिकांश दूर दराज के लोग होते हैं। जेल के मुख्य द्वार पर उमड़े लोंग डरने और सहमे लगे जब उनके कान तक गोलियों की आवाज सुनाई दी। गोलियों की तड़तड़ाहट से महिलाएं सहम गईं।