कुशीनगर : पूर्व मंत्री व सपा के वरिष्ठ नेता राधेश्याम सिंह ने जिलाधिकारी के कैम्प कार्यालय व कार्यलय में तैनात, एक बाबू पर भ्रष्टाचार करने और जिलाधिकारी का रिस्तेदार बता अन्य विभागों से धन उगाही करने का बड़ा आरोप लगाया है।

साथ ही इस पूरे मामले पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर विस्तार से बताने की बात कही है।

पूर्व मंत्री ने अपने फेसबुक पर लिखा है कि 

मुख्यमंत्री जी आप के गृह जनपद कुशीनगर में भ्रष्टाचार की सारी सीमायें टूट गयी है।जिला धिकारी आवास व ऑफिस में एक ऐसा लिपिक सम्बद्ध है।

जो जिला विकास कार्यालय से जिलाधिकारी व डी, आर,डी,ऐ,दोनों जगह सम्बद्ध है।जो अपने को डी, एम, का रिश्तेदार बता कर सभी विभागों से सारे आम पैसे की बसूली करता है।

जो पूरा जनपद जानता है बालू खनन, अबैध शराब को बिहार भेजने, सभी नगर पालिका, व नगर पंचायतो,थानो से,बन्दूक के लाइसेंस, व रिनुअल, के नाम पर, बसूली करता है कि जिला धिकारी को देना है।

खाद्य विभाग, व जिला पंचायत से भी बड़े पैमाने पर पैसा बसूली करता है मुख्यमंत्री जी ये डी, एम, कुशीनगर का पैसा कलेक्शन अमीन है जिसका नाम बिदेश्वर सिंह है।

यदि जिला धिकारी ईमानदार हो तो  भ्रष्टाचार में लिप्त बाबू को हटा कर जांच करे।लेकिन मुख्यमंत्री जी के नाक के नीचे का जिला कुशीनगर प्रदेश के भ्रष्टाचार में न,1है।

आप कुशीनगर के सभी अपने विधायको से पूछे कि जिला कैसे चल रहा है।मुझे उम्मीद है कि मुख्यमंत्री जी जरूर कुशीनगर के तरफ देखेंगे।पूरी बातों को विस्तार से पत्र लिखकर आप को अवगत कराऊंगा।